अमेरिका के राष्ट्रपति की पकिस्तान को चेतवानी, बोले ‘हालात बहुत खतरनाक, कुछ बड़ा करने जा रहा भारत’

हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प का पुलवामा हमले को लेकर डिटेल में बयान आया हैं. बता दे कि कुछ दिन पहले ही उन्होंने इस हमले की निंदा करते हुए कहा था कि उन्हें फिलहाल इस संबंध में रिपोर्ट्स मिल रही हैं. इसलिए वो इस पर डिटेल में बाद में बयान देंगे. ऐसे में आज उन्होंने एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान इस पर विस्तार में एक बयान दिया हैं. अपने इस बयान ने ट्रम्प ने पकिस्तान को चेतवानी देते हुए हिंट दी हैं कि भारत जल्द एक बड़ा कदम उठाने जा रहा हैं.

कुछ बड़ा करने की सोच रहा भारत

ट्रम्प ने इस मामले पर कहा कि वर्तमान में पाकिस्तान और भारत के मध्य एक खतरनाक स्थिति चल रही हैं. भारत इस स्थिति से निपटने के लिए कुछ बड़ा करने की सोच रहा हैं. भारत इस मामले को अब काफी सख्ती से लेने वाला हैं. दोनों देशो के बीच हालात काफी डेंजरस हैं. हम यही चाहते हैं कि इन दोनों के बीच दुबारा सब ठीक हो जाए. अभी कुछ दिनों पहले की कई लोगो की जान गई थी. भारत अब तक अपने 50 लोगो को खो चुका हैं”

अमेरिका ने पाकिस्तान की मदद पर लगाया लगाम

ट्रम्प ने ये भी कहा कि उन्होंने तत्काल प्रभाव से ही पाकिस्तान को दी जाने वाली 1.3 बिलियन डॉलर की सहयता बंद कर दी हैं. ट्रम्प ने ने बताया कि पाकिस्तान ने उनकी इस मदद का गलत फायदा उठाया हैं. ट्रम्प ने आगे कहा कि कश्मीर मुद्दे की वजह से भारत पाकिस्तान के बीच हाल ही में जो हुआ उससे अब स्थिति खतरनाक बनी हुई हैं.

उधर संयुक्त सुरक्षा परिषद UNSC ने भी इस हमले की कड़ी निंदा की हैं. उन्होंने इस हमले को कायराना बताया हैं. साथ ही उन्होंने जैश-ए-मोहम्मद संगठन का जिक्र करते हुए कहा हैं कि दोषियों को सजा अवश्य होनी चाहिए.

विदेशों में भी लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

पुलवामा हमले के बाद से ही भारत में हर जगह पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा हैं और पकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाए जा रहे हैं. लेकिन ये विरोध सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विदेशो में भी चल रहा हैं. दरअसल हाल ही में अमेरिका के दो शहरों न्यूजर्सी एवं न्यूयॉर्क में भारतीय मूल के लोगो ने एकत्रित होकर पाकिस्तान कासुंलेट के सामने ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगाए थे. वहां के लोगो में भी इस घटना को लेकर आक्रोश उमड़ रहा हैं.

भारत इतनी आसानी से नहीं भूलेगा

बताते चले कि हमले के बाद मोदी ने एक बयान में कहा था कि तुम लोगो ने हमला कर बहुत बड़ी गलती कर दी हैं. हम इस हमले को आसानी से नहीं भूलेंगे. उन्होंने इसके बाद भारतीय सेना को अपने हिसाब से जवाबी करवाई की पूरी छूट भी दे दी थी. फिर 18 फरवरी को सेना की एक टुकड़ी ने इस हमले के मास्टर माइंड गाजी सहित तीन लोगो को मार गिराया था. हालाँकि ये भारत का पहला ही बदला था. अभी भारत शाट नहीं हुआ हैं. और फिर अब डॉनल्ड ट्रम्प के बयान के बाद तो और भी सपष्ट हो गया हैं कि भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा हैं.