चाय को पीने के बाद अगर आप भी फेंक देते हैं चायपत्ती, तो ऐसा करने की भूल अब नहीं करना, यहाँ पढ़ें वजह

आपने देखा होगा की हमारे भारत देश में ज्यादातर लोगों की सुबह गर्मागम चाय के साथ ही होती है, हमारे देश में चाय पीने के शौकीन लोगों की कोई कमी नहीं है और बेशक आप भी चाय जरूर पीते होंगे मगर क्या आपने कभी इस बारे में सोचा है की चाय बनाने के बाद उमसे की बची हुई खाईपत्ति का आखिर क्या होता है जिसे एचएम आमतौर पर फेंक दियाकरते है, बेकार या झूठा समझ कर वो भी कचरे के डिब्बे में। आज हम आपको उसी चाय की पट्टी के बारें में बताने जा रहे है जिसे एचएम चाय बना लेने के बाद बेकार समझ कर फेंक दिया करते है साथ ही आपको यह भी बताएँगे की यही चाईपट्टी हमारे कितने ज्यादा काम की है जिसे हम पूरी तरह से बेकार समझते आ रहे थे। आज हम आपको बताते है इन चाय की पत्तियों का इस्तेमाल आप कैसे कर सकते हैं।

सबसे पहले तो आपको बता दें की चाय की पत्तियां हमारी सेहत के साथ-साथ हमारे कुछ घरेलु कामों में भी कई जगहों पर काम में लाईं जा सकती हैं। तो चलिये जानते है क्या क्या है इस चाय की पत्ती के फायदे। आपको बताना चाहेंगे की इस चायपत्ती का इस्तेमाल हम लकड़ी के बने सामानों पर भी कर सकते है, बता दें की इसके इस्तेमाल से धुंधले हो चुके लकड़ी की चीजों को हम पहले की तरह चमकदार बना सकते हैं। इसके लिए आपको बता दें की चाय बनाने के बाद बची हुई चायपत्ती को दोबारा में पानी में उबालकर किसी शीशी में भरकर रख लें और फिर इसके इस्तेमाल से आप लकड़ी के बने सामानों की सफाई करते है तो उनमें शानदार चमक आ जाती है।

आपको बताना चाहेंगे की चायपत्ती का इस्तेमाल आप चाहें तो काबुली चना बनाने के लिए भी कर सकते हैं। जी हाँ, असल में इसके लिए आपको सबसे पहले चायपत्तियों को सुखा लेना है और फिर काबुली चना बनाते समय उबलते हुए पानी में चायपत्ती की पोटली को उसमें डाल देना है। ऐसा करने से काबुली चनों का रंग सामान्य से और भी अधिक आकर्षक दिखता है और वो अच्छा भी लगता है।

बता दें की चाय की पत्ती में एंटीआक्सीडेंट काफी मात्र में पाया जाता है और इसे हम इसकी मदद से किसी तरह की छोटी-मोती चोट और घावों को भरने के लिए काम में ले सकते है। बताना चाहेंगे की जब भी कभी आपको कोई चोट आदि लग जाए तो सबसे पहले आप चायपत्तियों को उबाल लें और इसे चोट के ऊपर लगा दें यह संक्रमण से भी आपको बचाती है।

इसके अलावा आपको यह भी बताते चलें की बालों में चमक और दमक के लिए इस्तेमाला हो चुकी चायपत्ती काफी ज्यादा फायदेमंद होती है। देखा जाए तो यह एक तरह से प्राकृतिक कंडिशनर का काम करती है। आप चाहें तो चाय की बची हुई पत्तियों को एक अच्छे से धूल लें और फिर इन्हें दोबारा पानी में उबाल लें और फिर इस पानी से अपने बालों को साफ करें, नियमित ऐसा करने से बालों में प्राकृतिक चमक आएगी।चाय की पत्ती में थोड़ा सा विम पाउडर मिलाकर क्राकरी साफ करें, उसमें चमक आ जाएगी।