जीएम डाइट प्लान फॉलो करे और एक हफ्ते में तीन से पांच किलो वजन कम करे

यूँ तो आपने वजन कम करने के लिए कई तरह के रास्ते अपनाएं होंगे, लेकिन यक़ीनन हर बार आपके हाथ नाकामयाबी ही लगी होगी. जी हां कई बार ऐसा होता है कि हम वजन कम करने के लिए लाखों कोशिशे करते है, लेकिन फिर भी निराशा ही हमारे हाथ लगती है. ऐसा नहीं है कि आपकी कोशिशों में कोई कमी होती है, लेकिन कई बार गलत चीजों का सेवन करने की वजह से वजन कम नहीं हो पाता. इसलिए ये जरुरी है कि वजन कम करने के लिए आप न केवल एक्सरसाइज करे, बल्कि अपने खान पान में भी बदलाव करे.

जी हां आज हम आपको ऐसी जीएम डाइट के बारे में बताएंगे, जिसे आजमाने से आपका वजन यक़ीनन कम हो जाएगा. तो चलिए अब आपको बताते है कि आखिर ये जीएम डाइट क्या है. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि जीएम का फुल फॉर्म जनरल मोटर्स डाइट प्रोग्राम है, जिसे खास तौर पर वजन कम करने के लिए बनाया गया है. जी हां बता दे कि इसमें महीने में किस हफ्ते के सातो दिन आपको कब और क्या खाना है, इसका उल्लेख किया गया है. यकीनन केवल सात दिन इस डाइट को आजमाने के बाद आप अपने वजन में फर्क खुद महसूस करेंगे.

१. पहला दिन..  इस दिन नाश्ते में एक सेब और दो गिलास पानी पीएं. इसके बाद मिड मॉर्निंग यानि ग्यारह बजे के करीब एक कटोरा पपीता और दो गिलास पानी पीएं. इसके बाद लंच में एक बड़ी कटोरी तरबूज या खरबूजा खाएं और साथ ही दो गिलास पानी पीएं. इसके इलावा चाय के समय एक संतरा, चीकू और डेढ़ गिलास पानी पीएं. इसके बाद शाम के समय यानि छह बजे के करीब नारियल पानी पीएं. फिर डिनर में एक सेब और दो गिलास पानी पीएं. मगर इस बात का ध्यान रखे कि पहले दिन केवल फल ही खाएं और केला खाने से जरूर बचे.

दूसरा दिन..  सबसे पहले नाश्ते में दो उबले हुए आलू और दो गिलास पानी पीएं. फिर ग्यारह बजे के करीब कच्ची पत्ता गोभी और दो गिलास पानी पीएं. इसके बाद लंच में एक ककड़ी, एक टमाटर, आधा उबला हुआ चुकंदर और एक से डेढ़ गिलास पानी पीएं. फिर चाय के समय दो टमाटर और दो गिलास पानी पीएं. इसके बाद शाम के समय टमाटर और पालक का एक गिलास जूस पीएं. इसके बाद डिनर में उबली हुई लौकी में नमक या मसाला डाल कर खाये और दो गिलास पानी पीएं. जी हां ध्यान रखे कि दूसरे दिन केवल सब्जियां ही खाएं.

३. तीसरे दिन..  गौरतलब है कि तीसरे दिन नाश्ते में एक सेब और दो गिलास पानी पीएं. फिर ग्यारह बजे एक कटोरा पपीता खाएं. इसके बाद लंच में एक टमाटर, एक खीरा, आधा उबला हुआ चुकंदर ले. इसके बाद चाय के समय एक संतरा ले. इसके बाद शाम के समय पालक या टमाटर का एक गिलास जूस ले या एक चीकू खाएं. इसके बाद डिनर में उबली हुई लौकी में नमक या मसाला डाल कर खाएं और ध्यान रखे कि सब चीजों के साथ दो गिलास पानी जरूर पीएं.

४. चौथा दिन..  इस दिन नाश्ते में आधा गिलास स्किम्ड दूध पीएं. फिर ग्यारह बजे एक केला खाएं. इसके बाद लंच में एक गिलास स्किम्ड दूध बिना शक़्कर के पीएं. फिर चाय के समय एक केला खाएं और शाम के समय भी केला खाएं. इसके बाद डिनर में भी आधा गिलास स्किम्ड दूध बिना शक़्कर के लीजिये. इसके इलावा हर चीज खाने के बाद दो गिलास पानी जरूर पीते रहे.

५. पांचवा दिन..  इस दिन नाश्ते में एक कटोरी ब्राउन राइस और ग्यारह बजे दो टमाटर खाएं. इसके बाद लंच में एक कटोरी ब्राउन राइस, टमाटर ग्रेवी के साथ खाएं. इसके बाद चाय के समय नमक और जीरा मिलाएं हुए दो टमाटर ले. इसके बाद शाम के समय एक गिलास निम्बू पानी पीएं. फिर डिनर में ब्राउन राइस खाएं और सब चीजों के साथ दो गिलास पानी जरूर पीएं.

६. छठवा दिन..  इस दिन भी नाश्ते में क कटोरी ब्राउन राइस और ग्यारह बजे दो टमाटर खाएं. इसके बाद लंच में एक कटोरी ब्राउन राइस किसी भी सब्जी के साथ खा सकते है. इसके बाद चाय के समय जीरा और नमक मिले दो खीरे खाएं. फिर शाम के समय निम्बू पानी पीएं. इसके बाद डिनर में उबला हुआ चुकंदर, खीरा, गाजर, टमाटर और पत्ता गोभी का सलाद खाएं और सभी चीजों के साथ दो गिलास पानी का सेवन करना न भूले.

७ सातवा दिन..  इस दिन नाश्ते में एक कटोरी ब्राउन राइस खाएं और ग्यारह बजे दो टमाटर खाएं. इसके बाद लंच में ब्राउन राइस अन्य सब्जियों के साथ खाएं. फिर चाय के समय नमक और जीरा मिले हुए दो खीरे खाएं. फिर शाम के समय कोई भी जूस पीएं. इसके बाद डिनर में उबला हुआ चुकंदर, गाजर और खीरा खाएं. यक़ीनन सभी चीजों के साथ दो गिलास पानी जरूर पीएं.

गौरतलब है कि इस डाइट को अपनाने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर ले लीजिये, ताकि बाद में इससे आपको कोई परेशानी न हो. इसके इलावा डाइट के दौरान भरपूर पानी पीजिये.