अपनी शादी में बीवी निकिता के संग ऐसे नाचे थे शहीद मेजर विभूति, देखे विडियो

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं 14 फरवरी को पुलवामा अटैक में 46 CRPF जवान शहीद हो गए थे. इस हमले के बाद 18 फरवरी को सेना की एक टुकड़ी ने इसका पहला बदला लेते हुए तीन दुश्मनों को मार गिराया था. हालाँकि इस मुठभेड़ में सेना के 4 जवान भी शहीद हुए थे. इन्ही में से एक थे मेजर विभूति ढोलकियाँ. पिछले कुछ दिनों में मेजर विभूति और उनकी पत्नी निकिता की स्टोरी खूब वायरल हो रही हैं. दरअसल विभूति की अंतिम बिदाई के समय निकिता ने जो बातें की थी और जिस बहादुरी का परिचय दिया था वो देख हर किसी की आँखें नम हो गई थी. देहरादून के रहने वाले विभूति ने शहीद होने के 10 महीने पहले ही निकिता से शादी रचाई थी. इनकी प्यारी लव स्टोरी के बारे में हम आपको पहल यही बता चुके हैं. लेकिन इस बीच इन दोनों की शादी का एक विडियो इन दिनों बड़ा तेज़ी से वायरल हो रहा हैं.

इस विडियो में मेजर विभूति अपनी शादी में पत्नी निकिता के साथ डांस करते हुए दिखाई दे रहे हैं. इस विडियो में मेजर विभूति काफी हैंडसम दिखाई दे रहे हैं तो वहीँ उनकी पत्नी निकिता भी बेहद खुबसुरत लग रही हैं. इन दोनों को साथ में डांस करता हुआ देख ऐसा लगता हैं मानो ये दोनों एक दूजे के लिए ही बने थे. डांस करते हुए इन दोनों के बीच की केमेस्ट्री और प्यार साफ़ झलक रहा था. ये विडियो जिसने भी देखा उसका दिल पिघल गया. यकीन नहीं हो रहा था कि इतने खुबसुरत और प्यारे कपल अब एक दुसरे से हमेशा के लिए जुदा हो गए हैं

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इसके पहले मेजर विभूति की एंटी विदाई का भी एक विडियो वायरल हुआ था. इस विडियो में पत्नी निकिता आखरी बार अपने पति को टकटकी लगाए देख रही थी. इस दौरान उनकी आँखों से आंसू लगातार टपक रहे थे. निकिता ने इस दौरान अपने पति को आखरी बार चूमा भी था और ‘आई लव यू’ भी कहा था. निकिता ने इस दौरान कहा था कि आपको मुझ से ज्यादा देश से प्यार था, इसलिए आप उसके लिए शहीद तक हो गए. हम सबको आप पर फक्र हैं. बता दे कि निकिता और विभूति आखरी एक दुसरे से तब मिले थे जब वे बस में बैठ ड्यूटी पर जा रहे थे.

बरहाल आप इन दोनों की शादी का ये विडियो यहाँ देख सकते हैं. यदि आपको ये विडियो पसंद आए तो इसे दूसरों के साथ भी जरूर शेयर करे ताकि इन दोनों की प्रेम कहानी सदा सदा के लिए अमर हो जाए.

देखे विडियो:

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 18 फरवरी को जवानों और दुश्मनों के बीच हुई ये मुठभेड़ करीब 18 घंटो तक चली थी. सेना को एक ख़ुफ़िया जानकारी मिली थी कि दुश्मन पुलवामा से 10 किलोमीटर दूर एक घर में छिपे हुए हैं. ऐसे में सेना ने वहां जाकर इन्हें खदेड़ दिया था. इस तरह सेना के द्वारा पुलवामा हमले का पहला बदला 100 घंटे के अंदर ही ले लिया गया था. फिलहाल सेना अपने अगले मूव की प्लानिंग कर रही हैं.