अंतिम संस्कार होने के 2 महीने बाद जिन्दा मिली महिला, पुलिस परिजन के उड़े होश

दोस्तों सोशल मीडिया एक ऐसी चीज हैं जहाँ से हमे देश के कोने कोने की खबर देखने और सुनने को मिल जाती हैं. यही वजह हैं कि पिछले कुछ सालो में हर छोटी बड़ी खबरे देश के सभी लोगो के पास आसानी से पहुच जाती हैं. इन खबरों में एक अजब गज़ब केटेगरी भी होती हैं. इस केटेगरी में अक्सर ऐसी खबरे देखने को मिलती हैं जिसके बारे में जान हमारे दिमाग का पुर्जा पुर्जा हिल जाता हैं. इन अजीबो गरीब खरबों को देख हमें अपनी आँखों और कानो पर विश्वास नहीं होता हैं. ऐसी ही एक हैरान कर देने वाली खबर बिहार के रोहतास जिले से आ रही हैं.

दरअसल बिहार के रोहतास में हाल ही में एक महिला का मृत शव मिला था. पुलिस ने जब ये शव महिला के परिजनों को सौपा तो उन्होंने उसका दाह संस्कार भी कर दिया. लेकिन मरण तिथि के दो महीने बाद वो महिला आश्चर्यजनक रूप से जिन्दा पाई गई. अब आलम ये हैं कि महिला को जिन्दा देख पुलिस और परिजन दोनों के ही होश उड़े हुए हैं. आइए विस्तार क्या हैं पूरा मामला…

जानकारी के मुताबी ये पूरी घटना बिहार के रोहतास जिले के दिनारा के इंग्लिश गाँव की हैं. यहाँ 28 फरवरी को जिला पुलिस को एक विवाहित महिला का शव नहर में मिला था. पुलिस ने महिला के शव को बरमाद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था. पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव को महिला के परिजनों के हवाले कर दिया. इधर अपनी बेटी का मृत शव देख उसके मायके वालो का रो रो कर बुरा हाल हो गया था. उन्होंने पुलिस के द्वारा दिए गए शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया. महिला की मौत के बाद उसके मायके वालो ने मृतिका के ससुराल पक्ष के खिलाफ दहेज़ और हत्या का केस भी दर्ज किया था.

लेकिन इस पुरे मामले ने यू टर्न तब लिया जब महिला की मौत के करीब दो महीने बाद हाल ही में बिक्रमगंज पुलिस ने उसी महिला को जिन्दा हालत में बरमाद किया. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये खड़ा हो गया कि आखिर वो महिला कौन थी जिसका शव पुलिस ने पहले परिजनों को सौपा था. चुकी उस महिला का अंतिम संस्कार भी हो चूका हैं इसलिए इस बात का पता लगाने में पुलिस के पसीने छूट रहे हैं. इस पुरे मामले में पुलिस प्रसाशन की ओर से भारी लापरवाही सामने आ रही हैं. साथ ही इस बात को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट और दाह संक्सार करने वाले परिजनों से इतनी बड़ी चुक कैसे हो गई.

खैर जब दाह संस्कार के दो महीने बाद महिला के जिन्दा होने की बात पुलिस को पता चली तो उनके भी होश उड़ गए. वहीँ जब पुलिस ने महिला के परिजनों को इसकी सुचना दी तो पहले तो उन्हें इस पर विश्वास नहीं हुआ लेकिन बाद में उन्हें चेहरे भी खिल उठे. महिला के मायके के अलावा उसके ससुराल वालो को भी सुचना मिल चुकी हैं. ऐसे में उन पर लगा हत्या का केस भी खारिज हो जाता हैं. हालाँकि दहेज़ को लेकर मामले पर प्रकाश महिला के घर वापस आने पर ही चलेगा. फिलहाल पुलिस इस पुरे मामले की छानबीन कर रही हैं.