OMG.. केबीसी में पांच करोड़ रूपये जीतने वाले सुशील कुमार की हालत हो चुकी है इतनी खराब, जान कर यकीन नहीं कर पाएंगे आप

अगर हम टीवी की दुनिया की बात करे तो इस बात से सभी वाकिफ है कि हाल ही में कौन बनेगा करोड़पति का नया सीजन खत्म हो चुका है. वही अगर हम इसके पुराने सीजन की बात करे तो इस शो में कई लोगो को करोड़पति बनाया है. उन्ही में से एक सुशील कुमार भी है. बता दे कि सुशील कुमार केबीसी के पांचवे सीजन में आये थे और तब उन्होंने पूरे पांच करोड़ रूपये जीते थे. इसके अलावा आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सुशील कुमार बिहार के मोतिहारी जिला के रहने वाले है . वैसे बहुत कम लोग ये बात जानते है कि सुशील कुमार ने एक इंटरव्यू के दौरान ये कहा था कि वो फ़िलहाल एक प्रोडक्शन के लिए फिल्म की स्क्रिप्ट लिख रहे है. अब उनकी इस बात में कितनी सच्चाई है ये तो केवल वही जानते है.

सुशील कुमार

वही जो रूपये उन्होंने केबीसी में जीते थे, उन्हें सुशील कुमार ने बिज़नेस में लगा दिया है. बता दे कि केबीसी जीतने के बाद एक तरफ जहाँ सुशील कुमार काफी मशहूर हो गए, वही दूसरी तरफ उन्हें एक और रियलिटी शो में जाने का मौका भी मिला. इसके साथ ही उन्हें मनरेगा का ब्रांड एम्बेस्डर भी बनाया गया. वैसे आपको जान कर हैरानी होगी कि जिस मनरेगा योजना चलाने वाले विभाग में कभी सुशील कुमार नौकरी करते थे, वही केबीसी शो जीतने के बाद मनरेगा वालो ने उन्हें ब्रांड एम्बेस्डर बना दिया. इसके साथ ही सुशील कुमार ने ये भी बताया कि टैक्स काट कर उन्हें तीन करोड़ साथ लाख रूपये दिए गए थे.

हालांकि सुशील के अनुसार उनके पास अब ज्यादा पैसा नहीं बचा है. वो इसलिए क्यूकि इनाम में जीती राशि से उन्होंने अपना एक पुश्तैनी मकान बनवा लिया. वहीं सुशील ने ये भी कहा कि ये खबर भी गलत है कि वो पूरी तरह से कंगाल हो चुके है. हालांकि मीडिया के अनुसार ऐसा सुनने में आया है कि अब न तो उनके पास पैसे बचे है और न ही अच्छी नौकरी है. गौरतलब है कि इस बारे में सुशील  का कहना है कि एक बार उनके पास एक जर्नलिस्ट का फोन आया था, जिसने उनसे पूछा था कि क्या वो राजनीती में जा रहे है, लेकिन सुशील ने इस बात से मना कर दिया.

इसके बाद उन्होंने पूछा कि आपने जो इनाम जीता था, उसका क्या किया, ऐसे में सुशील कुमार इस सवाल का जवाब नहीं देना चाहते थे, इसलिए उन्होंने मजाक में कह दिया कि पैसे तो खत्म हो चुके है. बस उनके इतना कहने पर ही मीडिया को खबर बनाने का मौका मिल गया. वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सुशील कुमार जीती हुई रकम से न केवल अपने भाइयो की व्यापार में मदद की, बल्कि अपनी माँ के लिए मोतिहारी में एक प्लॉट और खेती करने के लिए कुछ जमीन भी खरीदी. इसी के साथ अब वो एक लाइब्रेरी भी बनाना चाहते है.

बरहलाल सुशील कुमार के लिए हम तो इतना ही कहना चाहते है, कि उनकी किस्मत हमेशा उनका साथ देती रहे.