सर्दियों में शरीर में होने वाले इन बदलावों के बारे में आपको नहीं पता होगा..

एक मौसम से जब दूसरा मौसम बदलता है तो कुछ बदलाव है. तापमान के साथ साथ हमारे शरीर में भी कुछ बदलाव होते हैं जिन्हें हम महसूस ही नहीं कर पाते कि ऐसा क्यूं हो रहा है. चूकि अब सर्दियां आने वाली है तो सर्दियों में शरीर में होने वाले बदलावों के बारे में बात करते हैं. कभी ध्यान देना ये सारी चीजें सर्दियों में आपके साथ होती है..

साइंटिफिक और साइकोलॉजिकल स्टडीज में यह बात सामने आई है कि ठंड का मौसम शरीर में बड़े स्तर पर बदलाव लाता है. बदलाव आपके शरीर के लिए फायदेमंद भी हो सकता है और नुकसानदायक भी.

Image result for हिंसा

हिंसा

स्टडी के अनुसार इस बात को माना गया है कि ठंडियों में तापमान कम होता है. तो इसी वजह से इंसान का दिमाग भी ठंडा रहता है और हिसंक विचार भी कम आते हैं. तो यह एक फायदेमंद बदलाव है.

नींद

आप अक्सर ठंड में गर्मियों की तरह फुर्तीले महसूस नहीं करते और हर समय आलस और नींद से घिरे रहते हैं कारण यह है कि विंटर के दिनों में रोशनी भी कम होती है. जो आपकी स्लीप साइकिल को प्रभावित करती है. इसी वजह से आप अनिद्रा से घिरे रहते हैं.

सेक्स

सर्दियों में सेक्स करने के चाहत थोड़ी कम हो जाती है. यह आपकी सेक्स ड्राइव को मार देती है. सर्दियों में आप कपड़े ही पहने रहना चाहते हैं तो अगर आप इन्हें नहीं उतारेंगे तो…काम कैसे बनेगा?

Image result for तनाव

डिप्रेसन

सर्दियों में आप अक्सर डिप्रेसड महसूस करते है और यह Seasonal Affective Disorder (SAD) के कारण होता है. यह मौसम की वजह से मूड में बदलाव आने की स्थिति होती है। सिर्फ आपका शरीर ही नहीं बल्कि दिमाग भी कम तापमान के प्रति सेंसिटिव होता है। ऐसे में सर्दियों में आपको ज्यादा डिप्रेसिंग फील होता है।

मोटापा

सर्दियों में हमारी फिजिकल एक्टिविटीज कम हो जाती है. इसके साथ ही हमें भूख भी ज्यादा लगती है. ऐसे में वजन बढ़ना लाजमी है.

Image result for रूखी त्वचा

त्वचा

सर्दियों में हवा में नमी कम हो जाती है जिसकी वजह से त्वचा के रुखे होने की समस्या हो जाती है. तो सर्दियों में त्वचा का खास ख्याल रखना पड़ता है.

बिमारी

सर्दियों में अस्थमा के मरीजों की समस्या बढ़ जाती है. इस दिनों में मौसम में ड्राई एयर का स्तर ज्यादा होता है. इसी के साथ बॉडी ग्लूकोज लेवल को भी अच्छे से नियंत्रित नहीं कर पाती है. इस वजह से डायबिटीज के मरीजों को भी अधिक सावधान रहने की जरूरत रहती है.

Image result for माइग्रेन

माइग्रेन

तापमान कम होने के कारण शरीर का बैरोमेट्रिक प्रेशर कम होता है. इस कारण माइग्रेन की समस्या अधिक बढ़ जाती है. इसके अलावा जोड़ों की सूजन की समस्या भी रहने लगती है. इस वजह से आर्थराइटिस के मरीजों की समस्या बढ़ जाती है.

आंखें

सर्दियों में बाहर निकलने पर ड्राई एयर की वजह से आंखों में इरिटेशन हो जाती है और इस समस्या का ज्यादा सामना कॉन्टेक्ट लेंस लगाने वाले लोगों को करना पड़ता है. इससे दिल पर भी ज्यादा जोर पड़ता है औप इससे जुड़ी समस्याएं भी बढ़ जाती है.

Image result for एक्सीडेंट्स

 दुर्घटनाएं

गर्मियों की अपेक्षा सर्दियों में दुर्घटना ज्यादा होती है. क्योंकि सर्दियों में कोहरा और बर्फबारी होती है जिसकी वजह से दुर्घटनाएं बढ़ जाती है.