अगर मासूम बच्चे के गले में सिक्का अटक जाए, तो जल्दी से करे ये उपाय और सिक्के को आसानी से निकाले

आपने अक्सर देखा होगा कि छोटे बच्चे इतने शरारती होते है, कि वो किसी भी चीज को उठा कर अपने मुँह में डाल लेते है. हालांकि उन्हें ये तक मालूम नहीं होता कि आखिर वो चीज क्या है, जिसे वो मुँह में डाल रहा है. जी हां उन्हें तो बस मुँह में डालने के लिए कुछ चाहिए होता है. यानि अगर हम सीधे शब्दों में कहे तो छोटे बच्चो को ये नहीं मालूम होता कि कौन सी चीज खाने लायक है और कौन सी चीज खाने लायक नहीं है. ऐसे में समझ न होने के कारण बच्चे किसी भी चीज को खाने की चीज समझ कर मुँह में डाल लेते है. गौरतलब है कि कभी कभी तो ये चीजे इतनी खतरनाक होती है, कि इससे बच्चे की जान भी जा सकती है.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कभी कभी छोटे बच्चे लोहे के सिक्के को भी मुँह में डाल लेते है और ये तो आपको मालूम ही होगा कि अगर एक बार ये सिक्का बच्चे के मुँह में फंस जाये, तो कितनी मुश्किल होती है. जी हां बच्चे तो उस सिक्के को खाना समझ कर अपने गले तक में फंसा लेते है. बता दे कि अगर सिक्का बच्चे की फ़ूड पाइप में फंस जाए, तो ये उनकी जान के लिए काफी खतरनाक हो सकता है. इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि अगर जाने अनजाने आपके बच्चे के गले में सिक्का फंस जाये, तो आप उसे कैसे आसानी से निकाल सकते है. जी हां यक़ीनन इस तरीके से आप बड़ी जल्दी अपने बच्चे के गले से सिक्का निकाल पाएंगे.

सबसे पहले तो हम आपको ये बता दे कि अगर आपके छोटे से बच्चे के गले में सिक्का अटक भी जाए, तो हमेशा धीरज रखे, ताकि आप अपने बच्चे को संभाल सके. इसके इलावा जब आपको पता चले कि आपके बच्चे ने मुँह में सिक्का निगल लिया है, तो सबसे पहले उसे आगे की तरफ झुकाएं. उसके बाद उसके सीने को एक हाथ से दबाएं. इसके बाद कम से कम पांच से छह बार उसकी पीठ पर दूसरे हाथ से थोक मारे.

गौरतलब है कि आपको इसी प्रक्रिया को दोबारा दोहराना है और इस प्रक्रिया को कम से कम दो से तीन बार दोहराना है. बता दे कि ऐसा करने से बच्चे के गले में कफ बनेगा और इससे उसके मुँह में फंसा सिक्का भी बाहर निकल जाएगा. इसके इलावा बच्चे के गले में यदि सिक्का फंस जाये तो उसके पेट के ऊपरी भाग को कस कर पकड़ ले और साथ ही झटके से दबाव डालते रहे.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ऐसा करने से सीने की साँस नीचे जाने की बजाय ऊपर आएगी. जिसके चलते मुँह में फंसा सिक्का बाहर निकल जाएगा. गौरतलब है, कि जब बच्चे के मुँह में सिक्का फंस जाता है, तो उसे तेज खांसी आती है. इस दौरान बच्चे को तब तक खांसने दे, जब तक उसके गले में कफ न जम जाये. दरअसल कफ जमने से वस्तु बाहर की तरफ आने लगती है. इसके साथ ही इस बात का ध्यान रखे कि अगर इतना करने के बाद भी सिक्का न निकले, तो खुद कोशिश न करे और बच्चे को सीधा डॉक्टर के पास ले जाए, क्यूकि अगर ज्यादा देर हो गई, तो बच्चे की जान को खतरा भी हो सकता है.

बरहलाल हम उम्मीद करते है कि आप अपने बच्चे का पूरा ध्यान रखेंगे और अगर कभी ऐसी स्थिति आ जाएँ, तो इन तरीको को आजमा कर जरूर देखियेगा, हो सकता है इससे आपके बच्चे की तकलीफ जल्दी दूर हो जाएँ.